What is GST in hindi with Pdf Notes | वस्तु एवं सेवा कर (भारत) (2023)

क्या आप भी हिन्दी मे सीखना चाहते है कि GST क्या है? (What is GST in hindi)। इस आर्टिकल मे आपको GST की जानकारी के साथ-साथ इसकी PDF Notes भी मुफ़्त मे डाउनलोड करने को मिलगी।

GST का फूल फॉर्म Good and Services Tax है। जिसे हिन्दी मे वस्तु एवं सेवा कर या माल एवं सेवा कर भी कहा जाता है। लेकिन यह GST के नाम से ज्यादा पॉपुलर और इस्तेमाल किया है।

Table of Contents

What is GST in hindi | GST क्या है?

चलिए अब समझते है कि GST क्या है? what is GST in hindi?

What is GST in hindi with Pdf Notes | वस्तु एवं सेवा कर (भारत) (1)

Good and Services Tax (GST) एक अप्रत्यक्ष कर या उपभोग कर (indirect tax) है। जिसका उपयोग भारत में वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति पर किया जाता है।

जीएसटी को भारत के अन्य अप्रत्यक्ष करों जैसे कि Entertainment Tax, Value Added Tax, Excise Tax, Import Duties, Luxury Tax, Central Sales Tax, Service Tax और इस तरह के कुल 17 करों को बदलने और एक राष्ट्र एक टैक्स (One Nation One Tax) के उद्देश्य से लाया गया था।

जीएसटी अधिनियम 29 मार्च, 2017 को पारित किया गया था और 1 जुलाई, 2017 को लागू किया गया था।

जीएसटी एक व्यापक, बहु-मंचित, गंतव्य-आधारित कर (Comprehensive, Multistage and Destination-based Tax) है:

  • यह व्यापक (Comprehensive) है क्योंकि इसमें कुछ राज्य के करों को छोड़कर लगभग सभी अप्रत्यक्ष करों (indirect taxes) को शामिल किया गया है।
  • यह बहु-मंचित (Multistage) भी है क्योंकि उत्पादन प्रक्रिया में हर कदम पर जीएसटी लगाया जाता है, लेकिन अंतिम उपभोक्ता के अलावा अन्य उत्पादन के विभिन्न चरणों में सभी पक्षों को वापस कर दिया जाता है।
  • यह गंतव्य-आधारित कर (Destination-based tax) भी है, क्योंकि इसे वस्तुओं / सेवाओं की खपत के स्थान से प्राप्त किया जाता है, न कि उस स्थान से जहाँ से वस्तुओं / सेवाओं का उत्पादन हुआ है।

GST Council (जीएसटी परिषद)

चलिए अब थोड़ा GST Council के बारे मे जान लेते है जो GST को हर प्रकार से नियंत्रित और लागू करने का काम करता है।

(Video) what is GST? | Goods and service tax | वस्तु एवं सेवा कर | For All Exams.

जीएसटी परिषद, जीएसटी का शासी निकाय (Governing Body) है। जिसमें कुल 33 सदस्य हैं, जिसके अंतर्गत 2 सदस्य केंद्र सरकार के हैं और 28 राज्य सरकार और 3 केंद्र शासित प्रदेशों से होते हैं।

जीएसटी परिषद में निम्नलिखित सदस्य होते हैं:

  • केंद्रीय वित्त मंत्री, भारत सरकार (अध्यक्ष के रूप में- 1)
  • केंद्रीय राजस्व या वित्त राज्य मंत्री, भारत सरकार (सदस्य के रूप में – 1)
  • प्रत्येक राज्य सरकारों के वित्त या कराधान मंत्री या प्रत्येक राज्य सरकार द्वारा नामित अन्य मंत्री (सदस्य के रूप में – कुल 28 सदस्य)
  • प्रत्येक केंद्र शाषित प्रदेश सरकारों के वित्त या कराधान मंत्री या प्रत्येक केंद्र शाषित प्रदेश सरकार द्वारा नामित अन्य मंत्री (सदस्य के रूप में- 3 सदस्य)

जीएसटी परिषद, भारत में वस्तु और सेवा कर (Goods and Sevices Tax) के संदर्भ में किसी भी कानून या विनियमन को संशोधित करने, समेटने या खरीदने के लिए एक सर्वोच्च सदस्य समिति है।

जीएसटी परिषद का नेतृत्व केंद्रीय वित्त मंत्री (वर्तमान में श्रीमती निर्मला सीतारमण) द्वारा किया जाता है, जिसमें भारत के सभी राज्यों के वित्त मंत्री शामिल होते हैं।

जीएसटी परिषद भारत में किसी भी संशोधन या नियम या वस्तुओं और सेवाओं के किसी भी दर (GST Rate) परिवर्तन के लिए जिम्मेदार है।

वस्तुओं और सेवाओं को कर के संग्रह के लिए पांच अलग-अलग टैक्स स्लैब में विभाजित किया गया है – 0%, 5%, 12%, 18% और 28%।

हालांकि, पेट्रोलियम उत्पादों, मादक पेय, और बिजली पर जीएसटी के तहत कर नहीं लगाया जाता है और इसके बजाय इनपर अलग-अलग राज्य सरकारों द्वारा अलग-अलग कर लगाया जाता है।

GSTIN – जीएसटी पहचान संख्या

GSTIN, जिसे जीएसटी पहचान संख्या (Goods and Services Identification Network) के रूप में जाना जाता है, प्रत्येक जीएसटी पंजीकृत व्यक्ति (GST Registered Person) को सौंपा गया है।

What is GST in hindi with Pdf Notes | वस्तु एवं सेवा कर (भारत) (2)

उदाहरण के लिए, 27AAAAA1234O1Z5 (15 अल्फ़ान्यूमेरिक पैन सहित नंबर):

  • पहले शुरू के 2 अंक राज्य के कोड होते ह, जैसे 27 – महाराष्ट्र, 07 – दिल्ली
  • अगले 10 अंक जीएसटी पंजीकृत करने वाले व्यक्ति के पैन कार्ड नंबर (AAAAA1234O) होते है।
  • आखिरी के 3 अंक 1Z5 – रैंडम (जोनल कोड) कोड होते है।

Intrastate Supply and Interstate Supply in Hindi

GST मे Intrastate और Interstate का भी बहुत महत्व होता है। इसीलिए आपको इसके बारे मे भी जानकारी होनी चाहिए। अंतरराज्यीय को हिन्दी मे राज्यांतर्गत और Interstate को अंतरराज्यीय भी कहा जाता है।

Intrastate Supply क्या है?

राज्यांतर्गत आपूर्ति (Intrastate Supply): किसी भी राज्य के अंतर्गत होने वाले खरीद और बिक्री को Intrastate Supply (राज्यांतर्गत आपूर्ति) कहा जाता है।

(Video) वस्तु एवं सेवा कर परिषद् । GST Council | Complete Summary of Laxmikanth (Part-44) | Lalit Yadav

जैसे किसी माल का उत्पादन महाराष्ट राज्य में हुआ और उसका उपभोग भी महाराष्ट्र राज्य में हुआ तो उसे हम Intrastate Supply (राज्यांतर्गत आपूर्ति) कहेंगे।

Interstate Supply क्या है?

अंतरराज्यीय आपूर्ति (Interstate Supply): जब दो राज्य के बीच कोई खरीद और बिक्री होती है उसे Interstate Supply (अंतरराज्यीय आपूर्ति) कहते है।

उदाहरण: जैसे किसी माल का उत्पादन महाराष्ट राज्य में हुआ और उसका उपभोग गुजरात राज्य में हुआ तो उसे हम Interstate Supply (अंतरराज्यीय आपूर्ति) कहेंगे।

Types of GST in Hindi

चलिए अब थोड़ा GST के अलग अलग प्रकार को समझते हैं, जो नीचे बताए गए है:

  • CGST
  • SGST
  • UTSGST
  • IGST
What is GST in hindi with Pdf Notes | वस्तु एवं सेवा कर (भारत) (3)

CGST क्या है?

जीएसटी कानून के तहत CGST का पूर्ण रूप Central Goods and Services Tax (केंद्रीय वस्तु और सेवा कर) है। इसे CGST अधिनियम 2017 के रूप में कहा जाता है।

जब किसी राज्य में किसी वस्तु या सेवा की Intrastate Supply (राज्यांतर्गत आपूर्ति) के अंतर्गत आपूर्ति होती है तो उस माल या सेवा पे जो GST दर लागु होती है उसका आधा हिस्सा CGST के तहत केंद्र सरकार को प्राप्त होता है।

उदहारण के लिए,

  • 100 रुपये के माल का उत्पादन महाराष्ट राज्य में हुआ और उसका उपभोग भी महाराष्ट्र राज्य में ही हुआ।
  • उस माल पर GST अधिनियम के तहत 18% GST Rate से कर वसूलना है।
  • तो 100 रुपये 18% से 18 रुपये का GST Tax वसूला जायेगा।
  • जिसमे से आधा हिस्सा यानी 9 रुपये केंद्र सरकार को CGST के अंतर्गत प्राप्त होगा।

SGST क्या है?

SGST भारत में GST के कर घटकों में से एक है। SGST अधिनियम का विस्तार राज्य के माल और सेवा कर से है। एसजीएसटी राज्य माल और सेवा कर अधिनियम 2017 के अंतर्गत आता है।

जब किसी राज्य में किसी माल या सेवा की Intrastate Supply (राज्यांतर्गत आपूर्ति) के अंतर्गत आपूर्ति होती है, तो उस माल या सेवा पे जो GST दर लागु होती है उसका आधा हिस्सा SGST के तहत राज्य सरकार को प्राप्त होता है।

उदहारण के लिए,

  • 100 रुपये के माल का उत्पादन महाराष्ट राज्य में हुआ और उसका उपभोग भी महाराष्ट्र राज्य में ही हुआ।
  • उस माल पर GST अधिनियम के तहत 18% GST Rate से कर वसूलना है।
  • तो 100 रुपये पर 18% से 18 रुपये का GST Tax वसूला जायेगा।
  • जिसमे से आधा हिस्सा यानी 9 रुपये राज्य सरकार यानी महाराष्ट्र सरकार SGST के अंतर्गत को प्राप्त होगा।

UTGST क्या है?

UTGST अधिनियम का विस्तार Union Territory Goods and Service Tax (केंद्र शासित प्रदेश के सामान और सेवा कर) से है।

(Video) वस्तु एवं सेवा कर | GST Full Topic In Hindi | Goods And Services Tax | GST Quastions In Hindi

जब किसी केंद्र शासित प्रदेश में किसी माल या सेवा की Intrastate Supply (राज्यांतर्गत आपूर्ति) के अंतर्गत आपूर्ति होती है तो उस माल या सेवा पे जो GST दर लागु होती है उसका आधा हिस्सा UGGST के तहत केंद्र शासित प्रदेश की सरकार को प्राप्त होता है। नीचे आपको UT कि लिस्ट दी गई है।

  1. Andamans and Nicobar Islands
  2. Lakshadweep
  3. Dadra & Nagar Haveli
  4. Daman and Diu
  5. Chandigarh and
  6. Other territories

उदहारण के लिए,

100 रुपये के माल का उत्पादन चंडीगढ़ केंद्र शासित प्रदेश में हुआ और उसका उपभोग भी चंडीगढ़ केंद्र शासित प्रदेश में ही हुआ।

उस माल पर GST अधिनियम के तहत 18% GST Rate से कर वसूलना है।

तो 100 रुपये पर 18% से 18 रुपये का GST Tax वसूला जायेगा। जिसमे से आधा हिस्सा यानी 9 रुपये लक्षद्वीप केंद्र शासित प्रदेश को UTGST के अंतर्गत प्राप्त होगा।

IGST क्या है?

IGST अधिनियम का विस्तार Integrated Goods and Service Tax (एकीकृत माल और सेवा कर) से है।

IGST- Integrated Goods and Service Tax (एकीकृत माल और सेवा कर) का मतलब अंतर-राज्य व्यापार या वाणिज्य के दौरान किसी भी सामान और / या सेवाओं की आपूर्ति पर IGST अधिनियम के तहत लगाया गया कर होगा।

जब किसी माल या सेवा का उत्पादन किसी एक राज्य में हुआ है और उसका उपभोग किसी दूसरे राज्य में हुआ है यानी विक्रेता और खरीदार दोनों अलग-अलग राज्यों में स्थित हैं तब उस माल पर GST केंद्र सरकार द्वारा IGST के रूप में एकत्र किया जाता है और उसक आधा हिस्सा उपभोगता राज्य यानि उस राज्य के साथ साझा किया जाता है जहाँ पे माल का आयात किया गया था।

उदहारण के लिए,

  • 100 रुपये के माल का उत्पादन महाराष्ट्र राज्य में हुआ और उसका उपभोग गुजरात राज्य में हुआ।
  • अब उस माल पर GST अधिनियम के तहत 18% GST Rate से कर वसूलना है।
  • तो 100 रुपये पर 18% से 18 रुपये का GST Tax केंद्र सरकार द्वारा के IGST रूप में वसूला जायेगा।
  • जिसमे से आधा हिस्सा यानी 9 रुपये गुजरात राज्य (उपभोगता राज्य) के साथ केंद्र सरकार द्वारा साझा किया जायेगा।

Types of Dealer in GST in hindi

जीएसटी मे डीलर को दो भागों मे बाटा गया है जो निम्न प्रकार के है।

Regular Dealer (रेगुलर डीलर)Composition Dealer (काम्पज़िशन डीलर)
जिस बिजनस का लेनदेन B2B (बिजनस टू बिजनस) और B2C (बिजनस टू कस्टमर) दोनों प्रकार के ग्राहक से होता है।जिस बिजनस का लेनदेन अधिकांश B2C (बिजनस टू कस्टमर) प्रकार के ग्राहक से होता है।
GST Calculation = Output GST-Input GSTGST Calculation = Output GST (जो कम दर हो)
जीएसटी रिटर्न फाइल: 3B और GSTR1 (मासिक) प्रकार के जीएसटी रिटर्न फाइल करना होता है।जीएसटी रिटर्न फाइल: 4 प्रकार के जीएसटी रिटर्न फाइल करना होता है।
इस प्रकार के डीलर का जीएसटी कर दर ज्यादा होता है। जोकी 0%, 5%, 12%, 18%, 28% होते है।इस प्रकार के डीलर का कर दर कम होता है। जोकी 1% होता है।
Regular Dealer राज्यांतर्गत और अंतरराज्यीय (Intrastate and Interstate) दोनों स्तर पर माल की बिक्री कर कर सकता है।Composition Dealer सिर्फ राज्यांतर्गत स्तर (Intrastate) पर ही बिक्री कर सकता है।
किसी बिजनस का कारोबार 1.5 करोड़ से ज्यादा है तो उसे Regular dealer के रूप मे पंजीकृत करना अनिवार्य है। यदि बिजनस का कारोबार 1.5 करोड़ से कम है तो यह वैकल्पिक होता है।Composition Dealer के अंतर्गत पंजीकृत करने के लिए बिजनस का कारोबार 1.5 करोड़ से कम होना चाहिए।

Input और Output GST

अब बारी Input और Output GST को समझने की।

  • Output GST: जब बिजनेस में हम माल बेचते समय जीएसटी लेते हैं, उसे Output GST कहा जाता है।
  • Input GST: जब बिजनेस में माल खरीदते वक्त हम जीएसटी देते हैं, तो उसे Input GST कहा जाता है।
  • GST Payable: Output GST से Input GST को घटाने पे हमे GST Payable प्राप्त होता है।

चलिए इसे उदाहरण के रूप मे समझते है:

(Video) GST most Important 40 Question | Goods ans Service Tax | वस्तु एवं सेवा कर | gk in hindi

मान लीजिए राम महाराष्ट्र राज्य मे एक बिजनेस करते है,जहां पर राम अपने बिजनस मे माल किसी एक पार्टी से खरीदते हैं और उसको अपने उपभोक्ता ग्राहक को मुनाफे के साथ बेचते हैं।

अब राम एक 80000 का माल खरीदा जिसपे उन्होंने 18% के रूप 14400 रुपये का GST भुगतान किया (जिसमे SGST 7200 और CGST भी 7200 भी है) तो जिस GST का भुगतान यहाँ राम ने किया उसे Input GST कहा जाएगा।

उसके बाद राम ने उस माल को मुनाफे के साथ किसी कस्टमर को 100000 रुपये मे बेच दिया जिसमे 18% से राम ने 18000 रुपये का GST कस्टमर से प्राप्त किया, जिसे हम Output GST कहेंगे। (जिसमे SGST 9000 और CGST भी 900 भी है)

जब राम GST की Filling करेंगे तब वह Output GST (18000) मे से Input GST (14400) को घाटा के जो राशि (3600) बचेगी वह राम के लिए GST Payable हो जाएगा यानि उतने रुपये (3600) ही राम को GST के रुप मे भरने होंगे।

ब्योराराशिSGST – 9%CGST– 9%कुल GST – 18%
Output GST1000009000900018000
Input GST800007200720014400
GST Payable180018003600

List of GST Rate

आप नीचे दिए लिंक से हर वस्तु और सेवा पर लागू GST Rate को देख सकते है। जिसे वस्तु या सेवा के नाम से या फिर HSN और SAC नंबर से चेक कर सकते है।

यदि आपको नहीं पता कि HSN और SAC नंबर क्या होते है तो आप नीचे दिए ब्लॉग को पढ़ सकते है:

Read More: HSN Code and SAC Code | बिल में HSN Code और SAC Code क्योँ होता है?

ध्यान रहे कि समय समय पे GST Council द्वारा इसमे बदलाव किए जा सकते है।

GST Rate: https://cbic-gst.gov.in/gst-goods-services-rates.html

Download GST in Hindi PDF Notes

आप GST in Hindi के pdf के नोट्स को हमारेTelegram Channel: Learn Moreसे फ्री मे Download कर सकते है।

निष्कर्ष: आपने क्या सीखा?

मैं उम्मीद करता हु आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। इसी तरह अलग अलग प्रकार की जानकारी पाने के लिए आप हमारे Blogs की केटेगरी भी चेक कर सकते है जिसमे आपकोComputer,MS Office,Tallyजैसे अलग अलग टॉपिक के बारे मे जानकारी प्राप्त कर सकते है।

इसके अलावा मैं आपको बताऊँ हमारी eLearning वेबसाईटLEARNMOREPRO.COMपे कंप्युटर कोर्स पे70% डिस्काउंटचल रहा है।

(Video) What is GST Explain in Hindi | With PDF Notes | Lecture 38

तो आप इस डिस्काउंट का लाभ ले सकते है। जल्दी से विज़िट करिए वेबसाईट करों और चेक करिए हमारे कोर्स को।

Spread the love

FAQs

वस्तु एवं सेवा कर जीएसटी का क्या अर्थ है? ›

वस्तु एवं सेवा कर ( संक्षेप मे: वसेक या जीएसटी अंग्रेज़ी: GST, अंग्रेज़ी: Goods and Services Tax) भारत में १ जुलाई २०१७ से लागू एक महत्वपूर्ण अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था है जिसे सरकार व कई अर्थशास्त्रियों द्वारा इसे स्वतंत्रता के पश्चात् सबसे बड़ा आर्थिक सुधार बताया है।

जीएसटी क्या है हिंदी में? ›

जीएसटी का Full Form होता है- Goods And Services Tax । हिन्दी में इसका अर्थ होता है- माल एवं सेवा कर। इसे, वस्तुओं की खरीदारी करने पर या सेवाओं का इस्तेमाल करने पर चुकाना पड़ता है। पहले मौजूद कई तरह के टैक्सों (Excise Duty, VAT, Entry Tax, Service Tax वगैरह ) को हटाकर, उनकी जगह पर एक टैक्स GST लाया गया है।

जीएसटी कितने प्रकार के होते हैं PDF? ›

जीएसटी के तीन प्रकार हैं:
  • CGST (केंद्रीय माल एवं सेवा कर)
  • SGST (राज्य वस्तु एवं सेवा कर)
  • UTGST (केंद्र शासित प्रदेश माल एवं सेवा कर)
  • IGST (एकीकृत माल एवं सेवा कर)
11 Jul 2021

भारत में वस्तु एवं सेवा कर जीएसटी कब लागू की गई? ›

सही उत्तर 1 जुलाई, 2017 है। वस्तु एवं सेवा कर (GST) भारत में 1 जुलाई 2017 को तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा लागू किया गया था। वस्तु एवं सेवा कर (GST): GST एक अप्रत्यक्ष कर है जिसका उपयोग भारत में वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति पर किया जाता है।

GST की आवश्यकता क्या है? ›

संक्षेप में, GST पंजीकरण किसी भी व्यक्ति के लिए एक जनादेश आवश्यकता है जो व्यवसाय कर रहा है। GST अगले 20-30 साल के लिए एक प्रमुख अप्रत्यक्ष कर सुधार है। GST के कार्यान्वयन के साथ पूर्ण करदाताओं में कम से कम 8 से 11 गुना वृद्धि की उम्मीद है। 5 से 7 करोड़ करदाता GST का हिस्सा होने की उम्मीद है।

जीएसटी के प्रथम अध्यक्ष कौन थे? ›

Detailed Solution

स्वर्गीय अरुण जेटली वस्तु एवं सेवा कर (GST) परिषद के पहले अध्यक्ष थे। वस्तु एवं सेवा कर, कराधान की एक प्रणाली है जो कई व्यक्तिगत रूप से लागू करों का एक कर में विलय करेगी।

GST कब लगता है? ›

भारत में जीएसटी 1 जुलाई 2017 को लागू हुआ। संसद के सेंट्रल हाल में 30 जून और 1 जुलाई की मध्य रात्रि को आयोजित समारोह में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे लांच किया। तत्कालीन राष्टपति प्रणब मुखर्जी और वित्त मंत्री अरुण जेटली भी समारोह में मौजूद रहे। इस तरह से 1 जुलाई 2017 को रात 12 बजे से GST पूरे देश में लागू हो गया।

GST लागू करने वाला भारत कौन सा देश है? ›

GST लागू करने वाला भारत 161वा देश है!

भारत में जीएसटी किसने पेश किया? ›

तत्कालीन मोदी सरकार के गठन के सात महीने बाद, नए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में जीएसटी विधेयक पेश किया, जहां भाजपा का बहुमत था।

जीएसटी कितने प्रतिशत है? ›

इन सब पर पहले 12 फीसदी की दर से GST लगता था, लेकिन 18 जुलाई के बाद यह टैक्स 18 फीसदी हो जाएगा.

वर्तमान में जीएसटी का अध्यक्ष कौन है? ›

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जीएसटी परिषद की वर्तमान अध्यक्ष हैं।

जीएसटी कैसे काम करता है? ›

जीएसटी विनिर्माता से उपभोक्ता तक माल और सेवाओं की आपूर्ति पर एकल कर है। प्रत्येक स्तर पर प्रदत्त निर्विष्टि करों के क्रेडिट मूल्यवर्धन के बाद के चरण में उपलब्ध होंगे, जिससे जीएसटी आवश्यक रूप से प्रत्येक स्तर पर केवल मूल्यवर्धन पर ही लगने वाला कर होगा।

जीएसटी कौन सा कर है? ›

व्याख्या: जीएसटी एक अप्रत्यक्ष कर है, जिसका भुगतान अंतिम रूप से उपभोक्ता द्वारा किया जायेगा. 6. किस प्रकार का कर जीएसटी है? व्याख्या: वस्तु और सेवा कर एक अप्रत्यक्ष कर है जो कि वस्तु और सेवाओं दोनों पर लगाया जाएगा ।

जीएसटी के 4 प्रकार क्या हैं? ›

भारत में जीएसटी के प्रकार केंद्रीय माल और सेवा कर राज्य माल और सेवा कर, केंद्र शासित प्रदेश माल और सेवा कर और एकीकृत माल और सेवा कर हैं।

जीएसटी के 3 प्रकार क्या हैं? ›

वर्तमान में, भारत में GST के प्रकार CGST, SGST और IGST हैं। यह सरल विभाजन अंतर-राज्य और राज्य के भीतर की आपूर्ति के बीच अंतर करने में मदद करता है और अप्रत्यक्ष करों को कम करता है।

जीएसटी का पैसा कहां जाता है? ›

करदाताओं द्वारा भुगतान किया गया GST केंद्र और राज्य सरकारों को जाता है और देश को चलाने के लिए राजस्व के मुख्य स्रोत के रूप में कार्य करता है। सरल शब्दों में, GST का पैसा देश चलाने के लिए सरकार के पास जाता है।

जीएसटी क्यों आया? ›

जीएसटी का परिचय उत्पादन और वितरण की मूल्य श्रृंखला में इनपुट करों के पूर्ण तटस्थता के कारण घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजारों में भारतीय उत्पादों को प्रतिस्पर्धी बना देगा। अध्ययनों से पता चलता है कि इससे आर्थिक विकास पर प्रभाव पड़ेगा।

जीएसटी में कितने नियम हैं? ›

टैक्समैन्स रिसर्च | 42+ जीएसटी नियम | सीजीएसटी | एसजीएसटी | आईजीएसटी | यूटीजीएसटी | जीएसटी मुआवजा उपकर | एनोटेट / एकीकृत, प्रामाणिक, संशोधित और अद्यतन।

भारत का पहला जीएसटी राज्य कौन सा है? ›

सही उत्तर असम है। GST का पूर्ण नाम गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स है। GST बिल को मंजूरी देने वाला पहला राज्य असम है। असम ने 12 अगस्त 2016 को GST बिल की पुष्टि की।

GST पहले कहाँ लागू हुआ? ›

GST संबंधी विधेयक को सबसे पहले असम राज्य ने 12 अगस्त 2016 को पारित किया था। इस कारण बहुत से लोग समझते हैं कि जीएसटी सबसे पहले असम राज्य में लागू हुआ था। लेकिन, वास्तव में इस तारीख को को सिर्फ असम राज्य की विधानसभा ने मंजूरी दी थी।

दुनिया में जीएसटी की शुरुआत किसने की? ›

माल और सेवा कर (जीएसटी) लागू करने वाला फ्रांस दुनिया का पहला देश था। दुनिया भर के 140 से अधिक देशों ने जीएसटी लागू किया है।

भारत में कितने लोग जीएसटी देते हैं? ›

वित्त मंत्री ने बताया कि देश की कुल 136,30,06,000 की आबादी में एसेसमेंट ईयर 2020-21 के मुताबिक देश में कुल 8,22,83,407 टैक्सपेयर्स हैं.

भारत में जीएसटी का लाभ क्या है? ›

ए: जीएसटी कर-पर-कर और अप्रत्यक्ष कराधान को कम करता है। यह वैट, सेवा कर इत्यादि जैसे कई अनुपालनों को दूर करता है जिससे बहिर्वाह में वृद्धि होती है। जीएसटी के साथ, बहिर्वाह प्रभावी रूप से कम हो गया है और इसलिए कराधान के व्यापक प्रभाव को समाप्त कर दिया गया है।

भारत में कितने प्रकार के टैक्स लगते हैं? ›

टैक्स कई प्रकार के होते हैं जैसे स्टेट टैक्स (राज्य कर), सेण्टर गवर्नमेंट टैक्स (केंद्र सरकार कर), डायरेक्ट टैक्स (प्रत्यक्ष कर), इन-डायरेक्ट टैक्स (अप्रत्यक्ष कर) इत्यादि। मुख्यता भारत में टैक्स को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया हैं – डायरेक्ट टैक्स और इन-डायरेक्ट टैक्स

वस्तु एवं सेवा कर क्या है इसकी विशेषताएं लिखिए? ›

सरल शब्दों में," माल एवं सेवाकर एक ऐसी प्रणाली है, जिसके अनुसार माल या सेवा की पूर्ति की प्रक्रिया मे प्रत्येक बिन्दु पर की गई वृद्धि पर ही कर लगाया जाता है। यह मूल्यवर्द्धन पूर्तिकर्ता द्वारा किया जाता है। जीएसटी मे माल के विक्रेता और सेवा के प्रदायक दोनों की पूर्तिकर्ता की संज्ञा दी गई है।

कौन वस्तु सेवा कर जीएसटी के दायरे से बाहर है? ›

निम्नलिखित वस्तुओं की आपूर्ति GST के अंतर्गत शामिल नहीं है:

पेट्रोल, कच्चा तेल, हाई-स्पीड डीजल, एविएशन टर्बाइन फ्यूल आदि।

वस्तु एवं सेवा कर GST में निम्नलिखित में से कौन सा कर शामिल नहीं है? ›

जीएसटी बिल के अंतर्गत निम्नलिखित में से कौन सी वस्तु शामिल नहीं होगी? व्याख्या: कुकिंग गैस, शराब, पेट्रोल, हवाई ईंधन, प्राकृतिक गैस और डीजल को जीएसटी के अन्दर कवर नहीं किया गया है।

वस्तु एवं सेवा कर जीएसटी को कितने घटकों में विभाजित किया गया है? ›

सही उत्तर चार है । CGST केंद्र सरकार द्वारा वस्तुओं और सेवाओं दोनों की राज्य के भीतर आपूर्ति पर लगाया जाने वाला कर है और यह CGST अधिनियम द्वारा शासित होगा।

जीएसटी क्या है UPSC? ›

जीएसटी (Goods and services tax in Hindi) एक ऐसा कर है जो उपभोक्ता द्वारा वस्तुओं या सेवाओं की खरीद पर लगाया जाता है। इसका मतलब एकल, व्यापक कर है जो उपभोग जीवन सेवा कर आदि पर अन्य सभी छोटे अप्रत्यक्ष करों को समाहित कर देगा।

जीएसटी के तीन प्रकार कौन कौन से हैं? ›

जीएसटी के प्रकार (CGST, SGST, IGST और UTGST) यह निर्धारित करता है कि लेन-देन एक राज्यान्तरिक आपूर्ति है या अंतरराज्यीय आपूर्ति। वस्तुओं और सेवाओं की राजकीय आपूर्ति - जब आपूर्तिकर्ता का स्थान और आपूर्ति का स्थान एक ही जगह में होता है। इस लेनदेन में, विक्रेता को खरीदार से CGST और SGST दोनों एकत्र करते है।

Videos

1. GST essay in hindi | GST nibandh for students | Goods and service tax essay for ssc cgl, chsl 2020
(Studyguru Pathshala)
2. वस्तु एवं सेवा कर🔥GST - Goods and Services Tax | Important Questions about taxes, IGST, SGST, CGST
(MJT Education)
3. भारत का संविधान | GST | वस्तु ऐवं सेवा कर | Goods ans Service Tax | GST IMP QUESTION | GK 2020
(GK 2020)
4. जीएसटी अवधारणा-1 (हिंदी) - जीएसटी की आवश्यकता क्यों थी? By : डॉ. विकास दिव्यकीर्ति
(Drishti IAS)
5. Static GK : कर संरचना एवं GST ,Tax Structure and GST Study91, Neeraj Sir, UPSSSC, UPSI, UPPCS
(STUDY 91)
6. what is gst/what is gst in hindi/gst kya hai full detail in hindi/gst kya hai in hindi/GST क्या है
(MATH GUROO 10)
Top Articles
Latest Posts
Article information

Author: Edmund Hettinger DC

Last Updated: 03/27/2023

Views: 5756

Rating: 4.8 / 5 (78 voted)

Reviews: 93% of readers found this page helpful

Author information

Name: Edmund Hettinger DC

Birthday: 1994-08-17

Address: 2033 Gerhold Pine, Port Jocelyn, VA 12101-5654

Phone: +8524399971620

Job: Central Manufacturing Supervisor

Hobby: Jogging, Metalworking, Tai chi, Shopping, Puzzles, Rock climbing, Crocheting

Introduction: My name is Edmund Hettinger DC, I am a adventurous, colorful, gifted, determined, precious, open, colorful person who loves writing and wants to share my knowledge and understanding with you.